Misc झारखंड मुख्यमंत्री राशन योजना – रेड जोन (संक्रमित) क्षेत्रों में 15 दिन...

झारखंड मुख्यमंत्री राशन योजना – रेड जोन (संक्रमित) क्षेत्रों में 15 दिन के राशन की होगी डिलीवरी

कोरोना संक्रमण के कारण झारखंड सरकार ने दूसरे राज्यों की तरह प्रदेश में भी कंटेन्मेंट क्षेत्र बनाए हैं जहां पर लोगों को राशन से जुड़ी कोई असुविधा ना हो इसके लिए मुख्यमंत्री राशन योजना का शुभारंभ कर दिया है। इस सरकारी योजना के माध्यम से राज्य सरकार कोविड-19 कंटेन्मेंट क्षेत्रों में 15 दिनों का राशन पहुंचाएगी ताकि लोगों को घरों से न निकलना पड़े और कोरोना वायरस महामारी को आगे बढ़ने से रोका जा सके। झारखंड मुख्यमंत्री राशन योजना से उन लोगों को बहुत राहत पहुंचेगी जिनका क्षेत्र पूरी तरह से लॉकडाउन है या रेडज़ोन के अंतर्गत आता है। आपको बता दें की प्रदेश में बहुत से जिलों को पहले ही रेडजोन घोषित कर दिया गया है।

सीएम राशन योजना 2020 की घोषणा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को करी जिसके साथ ही हिंदपीढ़ी से इस योजना की शुरुआत भी कर दी गई। उन्होंने कहा कि हिंदपीढ़ी पूरी तरह से लॉकडाउन है और ऐसे ही कई जिले हैं जिनमें हम 15 दिनों का राशन पहुंचाएंगे।

हिंदपीढ़ी के साथ-साथ ऐसी ही व्यवस्था बोकारो के कोरोना प्रभावित साड़म व अन्य क्षेत्रों से भी की गई।

Table of Contents

झारखंड मुख्यमंत्री राशन योजना

मुख्यमंत्री ने बताया की वे राज्य में किसी भी नागरिक को खाने के समान की कोई भी दिक्कत नहीं आने देंगे। ऐसे में किसी व्यक्ति, परिवार को खाद्यान्न की कमी न हो, इस बात को ध्यान के रखकर हिंदपीढ़ी के करीब आठ हजार घरों के लिए आकस्मिक राहत खाद्यान्न सामग्री वितरण की व्यवस्था की गई है।

सीएम राशन या अन्न योजना के शुरुआत करने के अलावा लोगों से घर पर रहने की अपील करी और सरकार के निर्देशों का पालन करने के साथ-साथ जांच प्रक्रिया में सहयोग करने की भी अपील करी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद, उपायुक्त रांची, एसएसपी रांची व अन्य लोग भी उपस्थित रहे।

सीएम राशन (अन्न) योजना – राहत सामग्री सूची

आकस्मिक राहत खाद्यान्न सामग्री में अभी के लिए निम्न्लिखित जरूरी चीजें उपलब्ध कराई जा रहीं है:

  1. 15 दिनों का चावल
  2. दाल
  3. आलू
  4. प्याज
  5. सरसों का तेल
  6. चायपत्ती
  7. चीनी
  8. साबुन
  9. नमक

इसके अलावा दूध के पाउडर का वितरण भी जल्द शुरू होगा इसकी जानकरी भी मुख्यमंत्री ने दी।

साथियों,

अब से कुछ देर में मैं राज्य के सभी ‘कंटेन्मेंट ज़ोन’ में वितरण हेतु ‘मुख्यमंत्री राशन योजना’ का प्रारम्भ राँची से करूँगा।

आपकी सरकार आप सभी के भलाई हेतु प्रयासरत है। झारखण्ड में कोई व्यक्ति भूखा ना सोये – यह हमारा लक्ष्य है।#JharkhandFightsCorona

— Hemant Soren (घर में रहें – सुरक्षित रहें) (@HemantSorenJMM) April 17, 2020

सीएम राशन (अन्न) योजना में शामिल संस्थाएं

मुख्यमंत्री ने कहा की अन्य संस्थाएं जैसे की सामुदायिक किचन, दीदी किचन, विशेष खाद्यान्न वितरण, स्वयंसेवी संस्थाओं से पूरी मदद मिल रही है और अन्य माध्यमों से भी जरूरतमंदों तक भोजन और खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रवासी मजदूरों जो देशव्यापी लॉकडाउन के चलते अन्य राज्यों में फंस गए हैं उन्हे डीबीटी के माध्यम से 1,000 रुपए की राशि प्रदान की जा रही है।

सीएम ने यह भी बताया कि पारले जी बिस्किट की ओर से दो लाख बिस्किट के पैकेट और लाइफबॉय कंपनी की ओर से 10 हजार साबुन प्राप्त हुए हैं जिनसे कोरोना के विरुद्ध एकजुट होकर संघर्ष करने में बहुत सहायता मिलेगी। गुरुनानक स्कूल परिसर को कंट्रोल रूम में बदल दिया गया जहां पर वितरण के लिए पैक किये जा रहे खाद्यान्न सामग्रियों का सीएम ने निरीक्षण भी किया।

कोरोना तत्काल सहायता योजना

राज्य सरकार ने कल कोरोना तत्काल सहायता योजना के लिए एक एप लॉन्च किया है जिसकी सहायता से वे लोग जो दूसरे राज्यों में काम करने गए थे और कोविड-19 महामारी के चलते वहाँ फस गए हैं वे इस योजना के माध्यम से वित्तीय सहायत राशि के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिये लिंक पर क्लिक करें:

झारखंड कोरोना तत्काल सहायता योजना