Misc छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना 2019 आवेदन पत्र डाउनलोड / सहायता...

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना 2019 आवेदन पत्र डाउनलोड / सहायता राशि / अस्पतालों की सूची

छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2008 से प्रदेश में दिल की बीमारी से पीड़ित बच्चों के इलाज के लिए मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना चला रखी है। जैसा की आप सभी जानते हैं दिल की बीमारी का इलाज कराने के लिए बहुत सारा पैसा खर्च होता इसी वजह से इस सरकारी योजना को राज्य में शुरू किया गया था। छत्तीसगढ़ की मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना (CG Bal Hriday Suraksha Yojana Application Form) में बच्चे के जन्म से लेकर 15 साल तक के होने तक दिल की बीमारी में पूरे उपचार का खर्च राज्य सरकार वहन करती है।

इस समय छोटे-छोटे बच्चों में भी दिल की बीमारी लगना शुरू हो रही है जिसके चलते लाखों बच्चों की जान हर साल चली जाती है। ऐसे में जो गरीब परिवार हैं उनको अपने बच्चे के हृदय रोग का उपचार कराने के लिए बहुत पैसों की दिक्कतों के साथ-साथ अन्य परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है। सीजी बाल हृदय सुरक्षा योजना में सरकार ऐसे परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

इस छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना के लिए सरकार समय-समय पर जागरूकता अभियान भी चलाती रहती है। अभी तक हजारों बच्चों को इस योजना के तहत प्रदेश की सरकार उपचार उपलब्ध करा चुकी है।

सीएम बाल हृदय सुरक्षा योजना लाभ व सहायता राशि

राज्य की इस सीएम बाल हृदय सुरक्षा योजना में लाभ व सहायता राशि (Bal Hriday Suraksha Yojana Assistance Amount) दिल की बीमारी या हृदय रोग के प्रकार (Benefits of Mukhyamantri Bal Hriday Suraksha Yojana Chhattisgarh) के अनुसार अलग-अलग वर्गीकृत की गई है जो आप नीचे देख सकते हैं:

  • हृदय की सामान्य सर्जरी के लिए 1.30 लाख रुपये की मदद दी जाती है।
  • जटिल सर्जरी के लिए 1.5 लाख रुपये दिए जाते हैं।
  • वॉल्व रिप्लेसमेंट की स्थिति में 1.80 लाख रुपये की मदद दी जाती है।
  • इसके अलावा अगर दिल का स्टेंट बदलवाने के लिए 50,000 रुपए की वित्तीय सहायता दी जाती है।
  • यह वित्तीय सहायता राशि मरीज के बैंक अकाउंट में ना भेजकर हॉस्पिटल के बैंक खाते में भेजी जाती है।
  • इसके साथ ही इलाज पूरा होने के बाद मरीज और उसके परिवार को घर तक पहुंचाने के लिए भी सुविधा राज्य सरकार द्वारा दी जाती है।
  • इसके बाद हॉस्पिटल के डॉक्टर या स्टाफ मरीज के घर पर उसको समय-समय पर चेक करने भी जाएंगे।

इस तरह की योजना देश में मध्य प्रदेश में भी चल रही है वहाँ पर भी बाल हृदय रोग का उपचार करवाने के लिए सरकार पूरी सहायता करती है। आज कल के समय में बच्चों को जन्म से ही दिल की बीमारियाँ लग रही हैं ऐसे में सरकार द्वारा इस तरह की योजनाओं की आवश्यकता भी है जिससे लोगों को कुछ राहत मिल सके।

सीजी मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना आवेदन फॉर्म डाउनलोड

  • दिल की सुरक्षा के लिए चलाई गई इस योजना (Bal Hriday Suraksha Yojana Application Form CG) का लाभ लेने के लिए आप छत्तीसगढ़ सरकार के नवजीवन पोर्टल http://navjeevan.cg.nic.in/baalhriday पर जा सकते हैं।
  • जहां पर आपको “आवेदन डाउनलोड” पर क्लिक करना है जैसा की नीचे इमेज में दिखाया है।
  • Mukhyamantri Bal Hriday Suraksha Yojana  Form PDF Download

    सीएम बाल हृदय योजना आवेदन पत्र डाउनलोड

  • उसके बाद फॉर्म (Bal Hriday Suraksha Yojana Application Form) में पूछी गई जानकारी भर कर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अथवा राज्य नोडल अधिकारी के पास जमा कराया जा सकता है या सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक/मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी / विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है।

इसके अलावा अपने आवेदन की स्थिति (Bal Hriday Suraksha Yojana Application Status) देखने के लिए आप http://navjeevan.cg.nic.in/baalhriday/CaseStatus.aspx पर जा सकते हैं जहां पर आपको प्रार्थी क्रमांक या प्रार्थी का नाम के साथ विकासखंड चुन कर “खोजें” के बटन पर क्लिक करना है।

सीएम बाल हृदय सुरक्षा योजना बीमारियों की सूची

  • वेंट्रीकुलर सेप्टल डिफेक्ट (Ventricular Septal Defect)
  • एट्रियल सेप्टल डिफेक्ट (Atrial Septal Defect)
  • टेट्रा लॉजी ऑफ फैलोट (Tertaralogy of Fallot)
  • पेटेंट डक्टस आट्रियोसस (Patent Ductus Artriosus)
  • पलमोनरी एस्टेनोसिस (Palmonary Stenosis)
  • कोऑर्कटेशन ऑफ ऑरटा (Coarctation of Aorta)
  • विथ वाल्वुलर डिसीज (RHD with Valvular Disease)

छत्तीसगढ़ बाल हृदय सुरक्षा योजना जरूरी दस्तावेज व शर्तें

इस मुफ्त चिकित्सा योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास निम्न्लिखित कागजात (Document Requirement for Bal Hriday Yojana) होने के साथ ही नीचे बताई गई शर्तों का पालन करना होगा:

  1. आवेदक के पास आधार कार्ड होना जरूरी है
  2. प्रदेश का स्थायी निवासी होने का प्रमाण पत्र
  3. राशन कार्ड
  4. अगर आवेदक के पास इनमें से कोई भी दस्तावेज नहीं है तो उसे एसडीएम से आवेदन फॉर्म पर हस्ताक्षर कराने होंगे
  5. योजना का लाभ केवल 15 वर्ष तक के बच्चे को ही मिलेगा

इसके अलावा इस योजना में कौन-कौन से अस्पताल आते हैं उनकी सूची आप नीचे दिये लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं। — बाल हृदय सुरक्षा योजना अस्पतालों की सूचीहेल्पलाइन नंबर : 0771-2235616, 0771-4026201 — मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना दिशा-निर्देश