Misc जम्मू कश्मीर आयुष्मान भारत / प्रधानमंत्री जान आरोग्य योजना – 5 लाख...

जम्मू कश्मीर आयुष्मान भारत / प्रधानमंत्री जान आरोग्य योजना – 5 लाख का मुफ्त ईलाज

जम्मू कश्मीर सरकार ने 1 दिसंबर 2018 को आयुष्मान भारत – पीएम जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) को लॉन्च किया था। जिससे जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में PMJAY स्वास्थ्य बीमा योजना (PMJAY health insurance scheme in J&K) से लगभग 31 लाख निवासियों को सीधा-सीधा लाभ मिला है। आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जान आरोग्य योजना के आधिकारिक लॉन्च को चिह्नित करने के लिए, राज्यपाल सत्यापल मालिक ने वार्षिक स्वास्थ्य कवरेज सुविधा का लाभ उठाने के लिए 10 लाभार्थियों के बीच सुनहरे कार्ड वितरित किए थे।

आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से गरीब और कमजोर वर्ग के परिवार किसी भी पैनल वाले अस्पताल में कैशलेस और पेपरलेस स्वास्थ्य सुविधाएं ले सकते हैं और देश के निजी या सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा या इलाज प्राप्त कर सकते हैं।

पीएम जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY scheme (Modicare) में राज्य सरकार द्वारा प्रति परिवार को 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जाता है।

जम्मू-कश्मीर आयुष्मान भारत योजना

जम्मू और कश्मीर में 126 सार्वजनिक, 29 निजी अस्पताल है जिनकी कुल संख्या 155 है जो राज्य सरकार द्वारा आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सूचीबद्ध किए गए हैं जहां पर जाकर लाभार्थी परिवार 5 लाख तक का मुफ्त ईलाज ले सकते हैं। इस सरकारी योजना का उद्देश्य पात्र लाभार्थियों को कैशलेस और मुफ्त स्वास्थ्य लाभ प्रदान करना है। सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC 2011) के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के 6.30 लाख गरीब और कमजोर परिवार इसके हकदार हैं। इस अवसर पर, यह भी बताया गया कि 14 करोड़ रुपये के दावों का निपटान पहले ही हो चुका है और सरकार इस योजना के तहत अधिक पंजीकरण करवा रही है।

Glimpses Launching of Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana-Ayushman Bharat in Jammu and Kashmir. pic.twitter.com/9N3QLYTNun

— BJP Jammu & Kashmir (@BJP4JnK) December 1, 2018

जम्मू-कश्मीर के लोगों ने बड़े पैमाने पर आयुष्मान भारत-प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) को अपनाकर सरकारी योजनाओं (AB-PMJAY is a flagship scheme) के प्रति अपना सकारात्मक रुख व्यक्त किया है। जैसा की अभी हाल ही में धारा 370 और 35A हटाई गई है और सरकार को लग रहा था की लोगों के मन में गुस्सा और आक्रोश होगा और प्रदेश के नागरिक इसे नहीं अपनाएँगे पर ऐसा नहीं है लोगों ने केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया और सरकारी योजनाओं में अपना पंजीकरण कराया।

आयुष्मान भारत-प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) के तहत जम्मू और कश्मीर सबसे अधिक गोल्डन कार्ड वितरित करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है।

आयुष्मान भारत योजना की मुख्य विशेषताएं

  • आयुष्मान भारत – राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन के तहत प्रति परिवार 5 लाख प्रति वर्ष के हिसाब से चिकित्सा दी जाएगी।
  • लाभार्थी निजी और सार्वजनिक दोनों निजी अस्पतालों में लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना की एक प्रमुख विशेषता यह है कि पूरे देश में लाभ पोर्टेबल हैं। इसका मतलब है कि लाभार्थी देश भर में कहीं भी इसका लाभ ले सकता है।
  • केंद्र सरकार एक एस्क्रौ खाते के माध्यम से आयुष्मान भारत खाते से धन हस्तांतरित करती है।

इसके अलावा केंद्र शासित सरकार ने हाल ही में 85+ योजनाओं को राज्य में शुरू किया था जिसकी जानकारी आप नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं। — जम्मू-कश्मीर 85 नई विकास योजनाओं की सूची / Jammu & Kashmir Govt. New Schemes List 2019