Misc हरियाणा मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना – 5 लाख का...

हरियाणा मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना – 5 लाख का मुफ्त जीवन बीमा

हरियाणा सरकार राज्य में व्यापारियों के लिए एक नई जीवन बीमा योजना शुरू करने जा रही है जिसके लिए खुद मुख्यमंत्री मनेहर लाल खट्टर ने घोषणा करते हुए बताया की वे मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना (CM Vyapari Samuhik Niji Durghatna Bima Yojana) को राज्य में शुरू करेंगे। इस सरकारी योजना में राज्य सरकार व्यपारियों को निजी समूहिक दुर्घटना के समय वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। हरियाणा मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना 2019 (Insurance Scheme for Traders) का शुभारंभ उन्होने कुछ व्यापारियों को कार्ड प्रदान करके करी।

इसी तरह की एक और दूसरी योजना मुख्यमंत्री व्यापारी क्षतिपूर्ति बीमा योजना (Haryana CM Vyapari Kshatipurti Beema Yojana – CMVKBY) का भी शुभारंभ किया जिसमें सभी छोटे व्यापारियों, दूकानदारों को उनके स्टॉक के अनुरूप 5 से 25 लाख रुपये तक का बीमा लाभ दिया जाएगा। इन दोनों मुख्यमंत्री व्यापारी क्षतिपूर्ति बीमा योजना और मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना 2019 का लाभ लेने के लिए व्यापारियों को जीएसटी के तहत पंजीकृत होना अनिवार्य है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि आबकारी व कराधान विभाग द्वारा अब तक पंजीकृत 3.75 लाख व्यापारियों की सूची यूनाइटिड इंडिया इंशोयरेंस कम्पनी को ऑनलाइन ट्रांसफर कर दी गई है।

हरियाणा मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना 2019

हरयाणा सीएम व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना 2019 की कुछ मुख्य विशेषताएँ हैं (Important features and Benefits of CM Vyapari Samuhik Niji Durghatna Bima Yojana) और योजना का लाभ कैसे लेना है इसके लिए आप नीचे दी गई जानकारी को पढ़ सकते हैं:

हरियाणा मुख्यमंत्री व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना 2019
योजना का नामहरयाणा सीएम व्यापारी सामूहिक निजी दुर्घटना बीमा योजना
लॉन्च की तारीख11 सितम्बर 2019
लाभार्थीछोटे दुकानदार, खुदरा व्यापारी, स्वरोजगार, खुद का व्यापार
लाभार्थियों की संख्याअब तक पंजीकृत 3.75 लाख
बीमा की राशि के लिए पात्रताआकस्मिक मृत्यु, स्थायी रूप से विकलांगता और शरीर के दो अंगों जैसे एक अंग या एक आंख को नुकसान होने की स्थिति में बीमा का लाभ दिया जाएगा।
बीमा की राशि5 लाख रुपए

सभी आवेदक यह ध्यान रखे की इस योजना का लाभ केवल उन्ही लोगों को मिलेगा जिन्होने जीएसटी के लिए पंजीकरण कराया हुआ है और जीएसटी भरते हों।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बीमा कंपनी के पास व्यापारियों का बीमा खुद ही कवर हो जाएगा क्योंकि कराधान विभाग द्वारा बीमा कंपनी को जीएसटी के तहत पंजीकृत व्यापारियों की सूची उपलब्ध करवा दी गई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 3,13,112 फर्में पंजीकृत हैं तथा 3,86,669 व्यापारी पंजीकृत हैं। दोनों बीमा योजनाओं में प्रीमियम की 36.13 करोड़ रुपये राशि सरकार द्वारा वहन की जाएगी और व्यापारियों का बीमा मुफ्त होगा।