Misc समर्थ योजना 2019 – 4 लाख लोगों को वस्त्र मंत्रालय देगा फ्री...

समर्थ योजना 2019 – 4 लाख लोगों को वस्त्र मंत्रालय देगा फ्री प्रशिक्षण

केंद्र सरकार कपड़ा क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए और वस्त्र क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए पीएम समर्थ योजना 2019 (Samarth Scheme) को शुरू करने जा रही है। समर्थ योजना (Textile Sector Samarth Scheme) के तहत वस्त्र मंत्रालय आगमी महीनों में 4 लाख लोगों को कपड़ा क्षेत्र में ट्रेनिंग उपलब्ध कराएगी। इस सरकारी योजना से टेक्सटाइल सेक्टर में कौशल प्रशिक्षण (Free training in Textile Sector) के लिए 18 राज्यों के करीब चार लाख लोगों को चुना जाएगा। समर्थ योजना 2019 के कार्यान्वन (Implementation of SAMARTH Scheme) के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

समर्थ योजना (Free Skill training in Samarth Scheme) का मुख्य उद्देश्य हथकरघा, हस्तशिल्प, सेरीकल्चर और जूट के पारंपरिक क्षेत्रों में कौशल को विकसित करना और आगे बढ़ाना है। वस्त्र मंत्रालय की यह समर्थ योजना लोगों में स्व-रोजगार को भी बढ़ावा देगी।

योजना के तहत केंद्र और राज्य सरकारों के बीच हुए समझौतों में 16 राज्यों के प्रतिनिधि मौजूद थे, जिनमें जम्मू-कश्मीर और ओडिशा के प्रतिनिधि मौजूद नहीं थे।

समर्थ योजना 2019 – फ्री ट्रेनिंग स्कीम

समर्थ योजना में कपड़ा क्षेत्र ट्रेनिंग के साथ रोजगार (PM Employment Scheme) भी उपलब्ध कराएगा। इस मुफ्त प्रशिक्षण योजना (Free training Scheme under Samarth Yojana) में वस्त्र क्षेत्र के सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं पर कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिससे आगे आने वाले समय में या तो उम्मीदवार खुद नौकरी प्राप्त कर लेगा या फिर अपना स्वयं का रोजगार स्थापित कर लेगा। स्मृति ईरानी ने बताया की टेक्सटाइल सेक्टर में फ्री ट्रेनिंग स्कीम 2019 (Textile Sector PM Samarth Yojana) देश के इतिहास में अब तक का पहला बड़ा कदम है।

Read in English : Samarth Scheme – Training to 4 Lakh People for Capacity Building in Textile Sector

कपड़ा क्षेत्र में आज के समय में लगभग 75% महिलाएं काम कर रही हैं। जिससे इस योजना से महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। समर्थ योजना में शामिल किए जाने वाले 18 राज्य निम्न्लिखित हैं: अरुणाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, केरल, मिजोरम, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, असम, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा, कर्नाटक, ओडिशा, मणिपुर, हरियाणा, मेघालय, झारखंड और उत्तराखंड आदि हैं।

पीएम समर्थ योजना 2019 – मुख्य उद्देश्य

प्रशिक्षण के बाद सभी लाभार्थियों को वस्त्र क्षेत्र से जुड़े विभिन्न कार्यों में नौकरियां दी जाएंगी। ट्रेनिंग में उन्हे तैयार परिधान, बुने हुए कपड़े, धातु हस्तकला, हथकरघा, हस्तकला और कालीन आदि से जुड़े कार्यों में स्किल डेवेलोप कराई जाएगी।

इसके अलावा किसी अन्य जानकारी के लिए उम्मीदवार समर्थ योजना के आधिकारिक samarth-textiles.gov.in पोर्टल पर जा सकते हैं या दिशा-निर्देश देख सकते हैं।