Misc दिल्ली बिजली बिल माफी योजना 2019 – 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल...

दिल्ली बिजली बिल माफी योजना 2019 – 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करने पर बिजली बिल माफ

दिल्ली सरकार ने राज्य में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव से पहले नागरिकों के लिए बिजली बिल माफी योजना 2019 (Electricity Bill Waiver Scheme) को शुरू करने का फैसला किया है। जिसके तहत जो भी बिजली उपभोक्ता प्रति महीने 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करता है उसको किसी भी तरह का बिजली का बिल (Free Electricity Scheme) नहीं देना पड़ेगा। दिल्ली फ्री लाइफलाइन बिजली योजना (Free Lifeline Electricity Scheme) को शुक्रवार से ही प्रदेश में लागू कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया की इस सरकारी योजना से राज्य में लगभग 4.9 मिलियन घरेलू बिजली उपभोक्ता लाभान्वित होंगे, जिनको दिल्ली बिजली बिल माफी योजना 2019 के अंतर्गत सब्सिडी (Electricity bill subsidy scheme) मिलेगी। दिल्ली फ्री लाइफलाइन बिजली योजना प्रदेश में लगभग 33 प्रतिशत लोगों को लाभान्वित करके उनकी आर्थिक सहायता करेगी।

बिजली पर सब्सिडी के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हर साल लगभग 1800 से 2200 करोड़ रूपये खर्च करती है। इसके अलावा दिल्ली में पहले से ही सबसे सस्ती बिजली (Free Electricity Scheme) लोगों को उपलब्ध कराई जा रही है।

दिल्ली फ्री लाइफलाइन बिजली योजना – लाभ

दिल्ली सरकार की इस फ्री लाइफलाइन बिजली योजना के तहत बिजली बिल का चार्ट आप नीचे देख सकते हैं

बिजली यूनिट खपतपहले के चार्जअब के चार्ज
0-200 यूनिट3 रूपयेमाफ
201-400 यूनिट4.50 रूपये50 प्रतिशत सब्सिडी (जो पहले भी थी)

पहले घटाए फिक्सड चार्ज दिल्ली सरकार ने मंगलवार बिजली विभागों को फिक्सड चार्ज घटाने के भी निर्देश दिये थे। जिसके अंदर जिन लोगों का सैंक्शन लोड 2 किलोवाट तक है, उन्हें हर महीने पहले 125 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से फिक्स्ड चार्ज देना पड़ता था पर 1 अगस्त से उसे घटा कर 20 रुपये प्रति किलोवाट कर दिया गया है। इस तरह से प्रदेश के लोगों को दो किलोवाट लोड पर सभी चार्ज को मिलाकर 244 रुपये तक की बचत होगी। 3 किलोवाट तक लोड होने पर 313 रुपये तक हर महीने बचत होगी।Read in English : Delhi Free Lifeline Electricity Scheme for Those Consuming upto 200 Units / Month दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (Delhi Electricity Regulatory Commission – DERC) द्वारा उपभोक्ताओं पर बोझ कम करने के एक दिन बाद ही मुफ्त बिजली योजना का यह निर्णय लिया गया है। डीईआरसी ने ज्यादातर घरेलू कनेक्शनों के लिए निर्धारित शुल्क को 84% तक कम कर दिया है।

इसके अलावा दिल्ली विद्युत नियामक आयोग ने सभी श्रेणियों के लिए बिजली का शुल्क (Subsidy on Electricity bill scheme) समान रखा है, सिर्फ उन लोगों को छोड़कर जो प्रतिमाह 1,200 से अधिक इकाइयों का उपभोग करते हैं। दिल्ली में कोई भी परिवार जो एक महीने में 1200 यूनिट से अधिक बिजली का उपभोग करता है, उसे अब प्रति यूनिट 25 पैसे अधिक देने होंगे।